Anupama Written Update 4th July 2023 Episode

Anupama Written Update 4th July 2023 Episode :- आज के एपिसोड में, माया सोचती है कि उसने अनुपमा को श्राप दिया , इतना बुरा भला कहा , लेकिन अनुपमा अभी भी उसके बारे में अच्छा सोच रही है। उसे अनुपमा से सबकुछ छीनने का अफसोस होता है । माया मन ही मन अनुपमा के अच्छे स्वभाव की तारीफ करती है , वह खुद को बुरा कहती है।

अनुपमा माया से कहती है कि गुस्सा सब कुछ बर्बाद कर देता है , और अगर अनु उसे बताएगी कि माया फिर से गुस्सा हो रही है तो वह फटाफट फ्लाइट बुक करके US से वापस आ जाएगी , इस बात पे माया मुस्कुराती है। अनुपमा माया से आगे कहती है कि गुस्से से किसी को फायदा नहीं हुआ ,अब अगर गुस्सा आए तो भगवान गणेश उनके साथ रहेंगे।

अनुपमा माया के साथ अपना एक्सपीरियंस शेयर करते हुए कहती है कि ,जब अनुज ने उसे छोड़ दिया था तो कांता उसे अस्पताल ले गई थी और वह उसने ऐसे लोगो को देखा जो बहुत ज्यादा बीमार है ,तब उसे एहसास हुआ कि कई लोग जीना चाहते हैं लेकिन जिंदगी उन्हें मौका नहीं दे रही हैं।

अनुपमा कहती हैं कि जिंदगी बहुत छोटी है और उन्हें इसे बर्बाद नहीं करना चाहिए। वह कहती है कि ये उनकी आखिरी मुलाकात हो सकती है। अनुपमा माया से उसके जाने के बाद अनुज और छोटी का ख्याल रखने के लिए कहती है , और फिर माया को गले लगाकर वहाँ से निकल जाती है।

इधर शाह हाउस में किंजल काव्या को दूध देती है पर काव्या हल्दी वाला दूध पिने से मना करती है और मुँह बनती है ,तब किंजल कहती है कि जब वह गर्भवती थी तो अनुपमा उसे डांटती थी और जबरदस्ती दूध पिलाती थी तो अब वो भी गर्भवती है तो उसे भी ये दूध पीना चाहिए , काव्या दूध पी लेती है।

तभी डिंपल किंजल से कहती है कि उसने उसे दूध देने के लिए कहाँ होता तो वो दूध दे देती , अगर वो ही सारा काम करती रहेगी तो सबको ये लगेगा कि नई बहु अलसी है और कोई काम नहीं करती। किंजल डिंपल से कहती है कि कोई भी उसे कुछ नहीं कह रहा है। काव्या डिंपल से कहती है कि छोटी-छोटी बातों का मुद्दा मत बनाओ। समर घर में सबको बताता है कि पाखी अपने कमरे में है इसलिए उन्हें यह जानने के लिए इंतजार करना होगा कि क्या हो रहा है।

अनुपमा माया के कमरे से बाहर आती है , अंकुश अनुपमा से माया के साथ उसकी बातचीत के बारे में पूछता है। अनुपमा कहती है कि सब कुछ ठीक है। तभी छोटी अनु रोती हुई अनुपमा के पास आती है और बताती है कि उसने उसके और माया के बीच कि सारी बातें सुन ली है। और वो अनुपमा के साथ इतना बुरा करने के लिए माया को बुरा-भला कहती है। अनुपमा अनु को समझाती है कि माया ने जो किया उसे समझने के लिए वह बच्ची है , और जब भी उसे उसकी जरूरत होगी वो सब कुछ छोड़कर उसके पास आ जाएगी। अधिक समर को मैसेज करके बताता है कि कपाडिया हाउस में सब कुछ ठीक है, समर ये बात शाह हाउस में बताता है जिससे सभी रिलैक्स हो जाते है।

लीला काव्या से अपना सामान लाने के लिए कहती है, समर कहता है वो काव्या का सामान ले आएगा, ये बात डिंपल को पसंद नहीं आती और वो समर पर गुस्सा करते हुए कहती है कि उसे काव्या का सामान लाने कि क्या जरूरत थी ? जबकि उन्हें कॉफी डेट और फिर डांस क्लास जाना था। और क्या सारा काम वो ही करेगा , तोषु भाई कि कोई जिम्मेदारी नहीं है ? क्या वो सिर्फ फालतू घूमने और परी के साथ खेलने के लिए ही है।

किंजल डिंपल और समर की बातचीत सुनती हैं और गुस्से में वहां से चली जाती है। समर डिंपल से कहता है कि इस घर में जिम्मेदारी हो या खुशियाँ , कभी भी मेरा तेरा नहीं होता , सब हमारा होता है। और ये बात वो जितनी जल्दी समझ जाये उतना अच्छा है। और ये सब होते हुए बा भी देख लेती है।

छोटी अनु, अनुपमा से पूछती है कि वह US से वापस कब वापस आएगी , अनुपमा अनु से वादा करती है कि जब भी उसे उसकी जरूरत होगी, वह वापस आ जाएगी।

शाह हाउस में वनराज और माया आपस में प्यार भरी बातें करते है , वनराज काव्य से कहता है कि उसने उसका काम करने का , वर्कआउट करने का सारा स्केडुअल फिक्स क़र लिया है ताकि वो फिट रह सकते और ज्यादा से ज्यादा काम क़र सके और अपने परिवार का ध्यान रख सके। दोनों अपनी आने वाली लाइफ को लेकर काफी खुश और एक्ससिटेड होते है।

अनु माया के कमरे में जाकर उससे बहुत बुरा भला कहती है , वो कहती है कि उसकी वजह से अनुपमा और अनुज अलग हो गए और वो भी उन दोनों से दूर हो गई , सिर्फ आपकी वजह से , वो कहती है आप बहुत बुरी हो। वह अनुपमा की प्रशंसा करती है और माया को यह बताकर आश्चर्यचकित कर देती है कि कैसे अनुपमा ने उसे उसकी इच्छा के लिए जाने दिया। अनु माया से कहती है कि वह बुरी है इसलिए वह उससे नफरत करती है। माया को अनु की बातें और चीखें याद आती हैं।
[एपिसोड समाप्त]

प्रीकैप: माया अनुपमा के पेरो में गिरकर माफ़ी मांगती है , अचानक उसे खासी चलने लगती है , अनुपमा उसके लिए पानी लेने जाती है तभी एक तेज रफ़्तार ट्रक अनुपमा कि और आता है , अनुपमा का ध्यान नहीं है पर माया का ध्यान जाता है। माया अनुपमा को बचने के लिए दौड़ती है और उससे धक्का देकर साइड में क़र देती है लेकिन खुद ट्रक कि चपेट में आ जाती है।


Leave a Comment