Anupama Serial Written Episode 23 June 2023 – Anupama Saves Nakul

Anupama Serial Written Episode Update On www.tvchaska.com

नकुल और अनुपमा अपना नृत्य शुरू करने से पहले गुरुमाँ मालती देवी का आशीर्वाद लेते हैं। गुरुमा सोचती हैं कि अगर वे नकुल की जगह होती तो उन्हें भी बुरा लगता, उन्हें प्रतिस्पर्धा करने देंना चाहिए, जीत की भूख नकुल को और बेहतर बनाएगी और हार गया तो उसे पता चल जायेगा की उन्होंने अनुपमा को अपना उत्तराधिकारी क्यों चुना। कभी-कभी अपने कला में सुधार करने के लिए कॉम्पीशन भी जरूरी होता है।

लीला किंजल से कहती है कि वह यह न बताये कि वो भी शाह हाउस छोड़ना चाहती है। वनराज कहता है कि किंजल को बोलने तो दो। किंजल कहती है कि अनुपमा के अमेरिका जाने में केवल 5 दिन बचे हैं, तो उन्हें अनुपमा को एक शानदार विदाई देनी चाहिए। वनराज भी सहमति देता हैं ,वो कहता है कि वे अनुपमा की भव्य विदाई पूरे दिल से करने की कोशिश करेंगे। लीला कहती है कि वह अनुपमा के पसंदीदा लड्डू बनाएगी और वो सब उसे इतना खास महसूस कराएंगे कि वह अमेरिका जाने का विचार छोड़ देगी। तभी वनराज कहता है कि उन्हें अनुपमा के रस्ते में फूल बिछाने है कांटे नहीं ,उन्हें अनुपमा को जाने देना चाहिए और उसके विकास में बाधा नहीं बनना चाहिए।

अनुपमा और नकुल की प्रतियोगिता शुरू होती है। गुरुमाँ उन दोनों का डांस देखकर मन ही मन सोचती है कि अनुपमा अपनी ख़ुशी के लिए और नकुल दुनिया के लिए और अनुपमा को हराने के लिए नृत्य कर रहा है। वह अनुपमा को प्रोत्साहित करती है। यह सुनकर नकुल को ईर्ष्या होने लगती है। तभी वह रोशनी कुछ देर के लिए बंद होती है, इसी अँधेरे का फायदा उठाकर नकुल साथी नर्तक को धक्का देता है जिससे फूलदान गिर जाता है, और उस फूलदान में रखे कांच के टुकड़े सब जगह फेल जाते है। अनुपमा फर्श पर फैले हुए कांच के टुकड़ों पर पैर रख देती है और दर्द से कराहते हुए गिर जाती है। गुरुमाँ तुरंत अनुपमा के पास आती हैं।

शाह हाउस में वनराज तोशु से कहता है कि वह उसके बालों की तरह है जो कभी भी सीधे नहीं होते ,वो आगे कहता है कि वो अपनी कंपनी में उसकी नौकरी के लिए बात करेगा और उसे नौकरी करना चाहिए, परी की देखभाल के लिए काम करना चाहिए और किंजल का दिल वापस जीतने की कोशिश करना चाहिए। वह इस घर का बड़ा बेटा है, लेकिन समर बड़े बेटे की जिम्मेदारियां निभा रहा है , ऐसा कब तक चलेगा। तोशु को बार-बार गलतियाँ करना और फिर माफ़ी माँगना बंद करना चाहिए। वह कहता है कि अनुपमा 5 दिनों में जा रही है और उन्हें उसे शानदार विदाई देनी चाहिए। तोशु भी कहता है की वो अपनी ममी के लिए कुछ स्पेशल करेगा

गुरुमाँ अनुपमा के पास दौड़ती हैं, नकुल किसी से डॉक्टर को बुलाने के लिए कहता है। अनुपमा गुरुमाँ को अपने पैर छूने देने से झिझकती है। गुरुमाँ कहती हैं कि एक गुरु अपने शिष्य का दर्द नहीं देख सकता, वो अनुपमा के पैर से कांच के टुकड़े निकलती है और उस पर पट्टी बाँध देती है। अनुपमा गुरु माँ से माफ़ी मांगती है और उसे चिंता न करने के लिए कहती है, वो कहती है कि वो मैनेज करेगी और अपनी चोट को अपने वादे में बाधा नहीं बनने देगी। वह हर्बल पेस्ट का उपयोग करेगी और अपनी चोटों को ठीक करेगी, आदि।
गुरुमाँ कहती है कि वह जानती है कि अनुपमा घायल पैरों के साथ भी डांस कर सकती है, पर वह जानना चाहती है कि दुर्घटना कैसे हुई, डांसिंग एरिया के पास फूलदान किसने रखा और उसमें कांच के टुकड़े कैसे आए। वह नकुल से सीसीटीवी फुटेज मंगवाकर जांच करने के लिए कहती है, नकुल टेंशन में आ जाता है। अनुपमा नकुल का चेहरा देखकर समझ जाती है कि फूलदान में कांच उसी ने रखे थे। गुरुमाँ चिंतित होती है, वो सोचती हैं कि अनुपमा के घाव गहरे नहीं होने चाहिए।

काव्या अपनी सोनोग्राफी के लिए अस्पताल जाती है और वहां वनराज को पाती है, वनराज कहता है कि उसने किंजल को आज उसके डॉक्टर के अपॉइंटमेंट के बारे में बताते हुए सुना था और इसलिए वो भी आ गया। काव्या कहती है कि उसके आने की कोई जरूरत नहीं थी, वनराज कहता है कि वह अपने लिए आया है, वह उसके और बच्चे के साथ रहना चाहता है और उन खुशियों का अनुभव करना चाहता है जो उसने अपने पहले 3 बच्चों के समय के दौरान मिस करदी थी। वनराज काव्य से अपने घर लौटने कि रिक्वेस्ट करता है , काव्या मान जाती है। और वो दोनों मुस्कुराते हुए साथ में शाह हाउस कि तरफ चल पड़ते है।

अनुपमा नकुल को बचाने के लिए गुरु माँ से झूठ बोल देती है कि उसने ही फूलदान वह पर रखा था, गुरु माँ दवाई लेने के लिए वह से जाती है , तभी नकुल अनुपमा के पैर पकड़ता है और उससे अपने ईर्ष्यालु कृत्य के लिए माफी मांगता है। अनुपमा उससे कहती है कि वह उसके पैर न छुए। नकुल कहता है कि वह जानती थी कि उसने ऐसा किया है और उसने अपना दोष अपने ऊपर ले लिया। अनुपमा कहती है कि चलो इसे भूल जाओ और ये बात उन दोनों के बिच ही रहेगी, नकुल उसकी प्रशंसा करने लगता है। तभी गुरु माँ दवा लेकर वापस अति है वह उन्हें बातें करते हुए देख लेती है।

PRECAP: अनुपमा को कोई टक्कर मारता है और वह फिसल जाती है, अनुज उसे पकड़ता है और उसकी चोट को देखता है। किंजल परिवार को बताती है कि पाखी भी कपाड़िया हाउस में अनुपमा के लिए विदाई पार्टी आयोजित कर रही है। लीला कहती है कि पाखी अपना होश खो बैठी है, उसने अनुपमा को क्यों बुलाया जहां माया मानसिक रूप से बीमार है। माया गुस्से में आटा गूंधती नज़र आती है। अनुज अनुपमा को उठाता है और चलता है जबकि उन पर फूल बरसते हैं।


  • Russell Wilson Shares Heartwarming Moment of Ciara Cuddling Newborn Amora

    Russell Wilson Shares Heartwarming Moment of Ciara Cuddling Newborn Amora

  • Debate Ignited by Netflix Series Featuring Sofía Vergara in the Role of Drug Lord Griselda

    Debate Ignited by Netflix Series Featuring Sofía Vergara in the Role of Drug Lord Griselda

Leave a Comment